इसी चीज की गंभीरता को देखते हुए डब्ल्यूएचओ (WHO) ने कुछ महत्वपूर्ण बातें पत्रकारों को सूचित किया है।

0

इसी चीज की गंभीरता को देखते हुए डब्ल्यूएचओ (WHO) ने कुछ महत्वपूर्ण बातें पत्रकारों को सूचित किया है।

मुम्बई :  वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने दुनिया भर के सभी पत्रकारो को कुछ गाइडलाइंस जारी की है जिसका इस्तेमाल कोविड-19 महामारी के रिपोर्टिंग दौरान करना बेहद जरूरी बताया गया है। हाल ही में मानसिक तनाव के कारण कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें आत्महत्या करने की पुष्टि है। इसमें भी कोई दोराहे नहीं की नकारात्मक रिपोर्टिंग का प्रभाव भी कुछ हद तक दर्शको पर पड़ता है।  इसी चीज की गंभीरता को देखते हुए डब्ल्यूएचओ (WHO) ने कुछ महत्वपूर्ण बातें पत्रकारों को सूचित किया है।  जिम्मेदार रिपोर्टिंग कैसे करे ? आत्महत्या के बारे में कहानियों को प्रमुख स्थान न दे।  उपयोग की गई विधि का स्पष्ट रूप से वर्णन न करें। समाचार पत्रों में और वेबसाइटों पर और बार-बार दोहराएं नहींआत्महत्या के बारे में विस्तृत जानकारी प्रसारित न करें जैसे – किंस प्रकार आत्महत्या की गई।  साइट / स्थान के बारे में विस्तार में विवरण न दें। सनसनीखेज सुर्खियों का उपयोग न करें। तस्वीरों, वीडियो फुटेज या सोशल मीडिया का उपयोग न करें ऐसे लिंक जो आत्महत्या की परिस्थितियों से संबंधित हैं उससे प्रसारित करने से बचे। उस भाषा का उपयोग न करें जो सनसनीखेज या आत्महत्या को  सामान्य दिखाती हो। आत्महत्या, या आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली भाषा से सावधान रहने के लिए इसे रचनात्मक समाधान के रूप में प्रस्तुत करना है। रिपोर्टिंग करते समय विशेष मदद कब और कहाँ मिलेगी इसके बारे में सटीक जानकारी दें जनता को आत्महत्या के तथ्यों के बारे में शिक्षित करें शोक संतप्त परिवार का इंटरव्यूकरते समय करुणा दिखाएं आत्महत्या रोकथाम कैसे हो उसपर जानकारी दे काउंसलिंग करें , मिथकों को फैलाने से बचे ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.