मुंबई ठाणे सिविल मूवमेंट नामक संस्था ने की लोकसत्ता न्यूस्पोर्टल के खिलाफ शिकायत दर्ज

0
155

 मुंबई ठाणे सिविल मूवमेंट नामक संस्था ने की लोकसत्ता न्यूस्पोर्टल के खिलाफ शिकायत दर्ज

लगाया गलत खबर फैलाने का आरोप..

अयोध्या के विषय में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय पर पुलिस ने शांति बनाए रखने में काफी मदद की है। हिंदू हो या मुसलमान दोनों तरफ के पक्षों ने कानून और शांति बनाए रखने में मदद की। मगर अयोध्या मामले पर कुछ नागरिकों का मीडिया पर आरोप लग रहा है की लोकसत्ता नामक एक न्यूज़ पोर्टल ने एक खबर को गलत तरीके से किया पेश किया है।

मुंबई ठाणे सिविल मूवमेंट नामक एक संस्था ने इस विषय को लेकर महाराष्ट्र के डीजीपी को लिखकर एक शिकायत दर्ज की है। जिसमे इनका कहना है की लोकसत्ता न्यूस्पोर्टल ने शब्दो को तोड़मरोड़कर पाठकों में गलत जानकारी फैलाई है।

आरएसएस के मुताबिक , अयोध्या मामले में मोहन भागवतजी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर देश को संबोधित किया है। ऐसे में गो वैद्य के स्टेटमेंट को आरएसएस का अधिकृत स्टेटमेंट लिखकर एक खबर चलाई थी। लोकसत्ता का शीर्षक कुछ इस प्रकार था

राम मंदिराच्या प्रदक्षिणा बाहेर मशिदिला जागा दया-RSS

मुंबई ठाणे सिविल मूवमेंट संस्था का कहना है की गो .वैद्य न तो कोई महत्वपूर्ण पद पर है न तो आरएसएस के प्रवक्ता फिर ऐसे में लोकसत्ता ने इनकी स्टेटमेंट को अधिकृत स्टेटमेंट लिखकर मीडिया में गलत खबर चलाई है और पाठकों की दिशाभूल की है। गो वैद्य ने जो भी कुछ कहा यह उनका वैयक्तिक मत है।इसमें आरएसएस का दूर दूर तक किसी प्रकार का कोई संबंध नहीं।ठाणे मुंबई सिविल मूवमेंट का कहना है की लोकसत्ता ऐसे गलत खबर चलाकर आरएसएस की प्रतिमा धूमिल कर रही है क्योंकि आरएसएस भारत का एक विशाल राष्ट्रीय संघटन है जिसमे देश के लाखो लोग जुड़े हुए हैं। ऐसे खबर चलाने से देश मे माहौल खराब हो सकता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.