सितंबर महीने से बज सकती है स्कूल की घंटी

0

सितंबर महीने से बज सकती है स्कूल की घंटी

अभिभावकों के मन में स्कूल शुरू होने को लेकर काफी असमंजस की स्थिति थी। अभिभावकों को डर था कहीं यह साल उनके बच्चों के लिए 0 ईयर साबित ना हो जाए. मगर अनलॉक 3 में सरकार स्कूल शुरू करने को लेकर एक औपचारिक घोषणा कर सकती है. सितंबर 2020 से चरणबद्ध तरीके से स्कूल को खोले जा सकते हैं. सितंबर से नवंबर तक सबसे पहले स्कूल और कॉलेज खोल दिए जाएंगे. स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन के अनुसार, शुरुआती दौर में 10 वीं और 12वीं की कक्षा से खोल दी जाएंगी. फिर धीरे-धीरे कक्षा 6 से 9 की भी शुरुआत चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी .

स्कूल का समय जो पहले 5 से 6 घंटों का हुआ करता था वह अब घटाकर 2 से 3 घंटों के लिए किया जाएगा. एक घंटा स्कूल के सैनिटाइजेशन के लिए आरक्षित किया जाएगा. सभी स्कूल सिर्फ 33 परसेंट स्टाफ को लेकर शुरू किया जाएगा.

प्राइमरी एवं प्री प्राइमरी कक्षा के बच्चों के बारे में अभी तक किसी भी प्रकार का निर्णय नहीं लिया गया है. ऐसे में ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से अभिभावक अपने बच्चों की पढ़ाई जारी रख सकते हैं.

अभिभावकों की स्कूल शुरू करने पर राय

करोना महामारी की दहशत के कारण अभी भी अभिभावकों के मन में बच्चों को स्कूल भेजने के लिए असमंजस की स्थिति एवं भय बना हुआ है. उनका मानना है हमारे बच्चों का यह पूरा साल भले ही व्यर्थ हो जाए मगर जब तक वैक्सीन नहीं बनती तब तक हम अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे.

ट्यूशन और कोचिंग क्लासेस के शिक्षक की आर्थिक हालत दयनीय

कोरोना महामारी को लेकर सबसे ज्यादा पीड़ित है तो वह है शिक्षक वर्ग. देशभर में हजारों लाखों ट्यूशन एवं कोचिंग सेंटर बंद पड़े हैं ऐसे में लाखों शिक्षकों की जिंदगी आज भी आर्थिक संकट से गुजर रही है. न तो सरकारी राहत ना तो ट्यूशन एवं कोचिंग क्लासेस के लिए हरी झंडी ऐसे परिस्थिति में शिक्षक वर्ग बिल्कुल बेरोजगारी के कगार पर है.

नोट: यदि आपको हमारी खबर अच्छी लगे तो हमारे न्यूज़ पोर्टल पर बेल आइकॉन दबाकर इसे सब्सक्राइब करें। आप खुद भी अपनी न्यूज़ हमारे पोर्टल पर होमपेज पर जाकर Submit news ऑप्शन पर क्लिक करके पोस्ट कर सकते हैं, या हमे अपनी न्यूज़ contact@trueblitz.com पर ईमेल कर सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.