राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नाम से फर्जी किताब भेजने वालों के खिलाफ शिकायत हुई दर्ज, हो सकती है जेल..

0

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नाम से फर्जी किताब भेजने वालों के खिलाफ शिकायत हुई दर्ज, हो सकती है जेल…

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का भारतीय राजनीति में बहुत ही महत्वपूर्ण किरदार के रूप में देखा जाता है। आदर्श व्यक्ति और चरित्र निर्माण इनकी शाखाओं की खूबी है। संघ की शाखाओं ने व्यक्ति निर्माण के अलावा भारत को कई ऐसे आदर्श नेता भी दिए हैं जिसके कारण राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हमेशा से ही उनके प्रतिद्वंद्वियों के निशाने पर रहते हैं।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के भारत निर्माण के इस योगदान के कारण कई विरोधक एवं देश विरोधी घटक इस राष्ट्रीय संगठन को बदनाम करने के लिए तरह-तरह के षड्यंत्र रचते रहते हैं।

कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर नया भारतीय संविधान नामक एक पीडीएफ फाइल प्रसारित की जा रही है। इस किताब का लेखक कौन है इसमें उसका कोई जिक्र नहीं है। इस किताब के माध्यम से मोहन भागवत एवं आर एस एस की छवि धूमिल करने की कोशिश की गई है।

इस घिनौनी हरकत को लेकर एक सामाजिक संस्था के कार्यकर्ता ने इसके खिलाफ मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी के पास शिकायत दर्ज की है। इस सामाजिक कार्यकर्ता का कहना है कि मैं खुद बचपन से ही शाखाओं में जाता था। इस शाखाओं में जाकर बहुत अच्छी-अच्छी बातें सीखी है। तरह तरह के खेल भी शाखाओं में लिए जाते थे। मगर जिस प्रकार लोग यह कह रहे हैं संघ भेदभाव करता है यह बिल्कुल पूरी तरह झूठ और आधारहीन है। शिकायतकर्ता का कहना है कि कोई भी व्यक्ति झूठ के बहकावे में ना आए बल्कि खुद स्वयं संघ की शाखाओं में आए और अनुभव ले।

इस शिकायत में जो भी व्यक्ति ऐसी पीडीएफ फाइल फॉरवर्ड करेगा उनपर FIR दर्ज करने की माँग की गई है साथ साथ यह किताब का रचैता और लेखक के खिलाफ भी शिकायत दर्ज की गई है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.