प्रियंका गाँधी का भगवान श्री राम पर बड़ा बयान

0

प्रियंका वाड्रा ने अपने एक वक्तव्य द्वारा की भगवान राम की स्तुति

कांग्रेस पार्टी की सचिव श्रीमती प्रियंका वाड्रा ने आगामी 5 अगस्त में होने वाले रामजन्मभूमि पूजन को लेकर भगवान श्री राम के बारे में जानकारी और स्तुति अपने एक वक्तव्य द्वारा प्रकट की है।

 

श्रीमती प्रियंका गांधी वाद्रा ने अपने ट्विटर द्वारा एक वक्तव्य जारी किया है। आइये देखते हैं क्या कुछ लिखा है उन्होंने …

दुनिया और भारतीय उपमहाद्वीप की संस्कृति में रामायण की गहरी और अमिट छाप है। भगवान राम, माता सीता और रामायण की गाथा हजारों वर्षों से हमारी सांस्कृतिक और धार्मिक स्मृतियों में प्रकाशपुंज की तरह आलोकित है। भारतीय
मनीषा रामायण के प्रसंगों से धर्म, नीति, कर्तव्यपरायणता, त्याग, उदात्तता, प्रेम, पराक्रम और सेवा की प्रेरणा पाती रही
है। उत्तर से दक्षिण, पूरब से पश्चिम तक रामकथा अनेक रूपों में स्वयं को अभिव्यक्त करती चली आ रही है। श्रीहरि के
अनगिनत रूपों की तरह ही रामकथा हरिकथा अनंता है।
युग-युगांतर से भगवान राम का चरित्र भारतीय भूभाग में मानवता को जोड़ने का सूत्र रहा है। भगवान राम आश्रय हैं और
त्याग भी। राम सबरी के हैं, सुग्रीव के भी। राम वाल्मीकि के हैं और भास के भी। राम कंबन के हैं और एषुत्तच्छन के भी।

राम कबीर के हैं, तुलसीदास के हैं, रैदास के हैं। सबके दाता राम हैं। गांधी के रघुपति राघव राजा राम सबको सम्मति देने
वाले हैं। वारिस अली शाह कहते हैं जो रब है वही राम है।
राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त राम को ‘ निर्बल का बल’ कहते हैं। तो महाप्राण निराला ‘ वह एक और मन रहा राम का जो न
थका ‘ की कालजयी पंक्तियों से भगवान राम को’ शक्ति की मौलिक कल्पना ‘ कहते हैं। राम साहस हैं, राम संगम हैं, राम
संयम हैं, राम सहयोगी हैं। राम सबके हैं। भगवान राम सबका कल्याण चाहते हैं। इसीलिए वे मर्यादा पुरुषोत्तम हैं।
आगामी 5 अगस्त, 2020 को रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम रखा गया है। भगवान राम की कृपा से यह
कार्यक्रम उनके संदेश को प्रसारित करने वाला राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का कार्यक्रम बने।
जय सियाराम

(प्रियंका गांधी वाद्रा)

नोट: यदि आपको हमारी खबर अच्छी लगे तो हमारे न्यूज़ पोर्टल पर बेल आइकॉन दबाकर इसे सब्सक्राइब करें। आप खुद भी अपनी न्यूज़ हमारे पोर्टल पर होमपेज पर जाकर Submit news ऑप्शन पर क्लिक करके पोस्ट कर सकते हैं, या हमे अपनी न्यूज़ contact@trublitz.com पर ईमेल कर सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.