चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स के माध्यम से भारत को दी नसीहत

0

चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स के माध्यम से भारत को दी नसीहत

पीएलए पहुंचा सकता है 1962 से ज्यादा नुकसान

भारत यूएस के सहयोग के भ्रम में न रहे

मुंबई: चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स के एक एडिटोरियल के अनुसार, चीन ने भारत को धमकाया है कि दिल्ली एक शक्तिशाली देश चीन से टकरा रहा है. पीपल लिबरेशन आर्मी अपने देश के हर 1 इंच को सुरक्षित रखने के लिए कटिबद्ध है. अगर भारत शांति स्थापित करना चाहता है तो चीन उसके लिए सदैव तैयार है और अगर भारत चीन से स्पर्धा चाहता है तो चीन उसके लिए और अधिक सक्षम है. पीपल लिबरेशन आर्मी ने भारतीय सेना को 1962 से ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है ।
भारत वाशिंगटन के सहयोग के भ्रम में ना रहे. यूएस भारत को सिर्फ मौखिक रूप से सहयोग कर सकता है . भारत को सिर्फ एक कठपुतली की तरह इस्तेमाल कर रहा है. चीन और भारत का संघर्ष भले ही कितने ही भी बड़ा या छोटा क्यों ना हो यह संघर्ष भविष्य में नॉर्मल हो जाएंगे.

भारत और चीन को बॉर्डर संघर्ष शांति के मार्ग से सुलझाना चाहिए. भारत अगर जानबूझकर चीन को उकसा ता है तो चीन शांत नहीं बैठेगा . चीन वह हर जरूरी कार्यवाही भारत के खिलाफ करेगा. चीन भारत से कई गुना शक्तिशाली है और वह चीन के स्पर्धा में भारत कहीं पर भी नहीं टिकता. भारत अगर यह सोच रहा है कि वह किसी अन्य ताकतों से चीन से दो हाथ करने में सक्षम है तो वह उसका भ्रम होगा. भारत हमेशा से ही चीन और भारत बॉर्डर संघर्ष को लेकर मौकापरस्त रहा है.

नोट: यदि आपको हमारी खबर अच्छी लगे तो हमारे न्यूज़ पोर्टल पर बेल आइकॉन दबाकर इसे सब्सक्राइब करें और फेसबुक पेज पर लाइक जरूर करें। आप खुद भी अपनी न्यूज़ हमारे पोर्टल पर होमपेज पर जाकर Submit news ऑप्शन पर क्लिक करके पोस्ट कर सकते हैं, या हमे अपनी न्यूज़ contact@trueblitz.com पर ईमेल कर सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.