रक्षा बंधन और भारत…

0

रक्षा बंधन और भारत…

रक्षा बंधन और भारत...
रक्षा बंधन और भारत…

रक्षा बंधन का अर्थ है कि, रक्षा यानी सुरक्षा और बंधन का मतलब जिम्मेदारी।  हर भाई की जिम्मेदारी है कि, वह अपनी बहन की रक्षा करे और बहन कौन है? अपनी पत्नी को छोड़कर अपनी सगी बहन के साथ-साथ सामाज की देश की वह हर स्त्री हमारी बहन है और उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी हर भाई की है।एक बहन को आज भी अपने पति से भी ज्यादा अपने भाई पर भरोसा है की वह हर परिस्थिति में अपने बहन की रक्षा करेगा।  

हमारी भारतीय संस्कृति में केवल मानव रूप में ही नहीं अपितु हर रूप में भाई ने बहन की रक्षा की है।  इसका एक प्रमाण रामायण में है। 

आप सबको ज्ञात होगा की माता सीता का जन्म धरती से हुआ इसलिए उनका एक नाम भूमिजा भी है, और जब उन्हें लव कुश के जन्म के बाद प्रभु श्री राम के महल में अपनी शुद्धता का प्रमाण देने के लिए कहा गया तो उन्होंने धरती माता को ही पुकारकर पृथ्वी में समाधि ली थी।  इसी नाते से धरती से उगनेवाली हर वनस्पति उनके भाई हैं।  जब रावण माता सीता को हर ले गया और उसके कोटि कोटि प्रयत्न के बाद भी माता सीता ने उसका विवाह प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया तो वह जबरन उनसे विवाह करने के लिए अशोकवाटिका में आगे बढ़ता है तो माँ सीता घास के तिनके से अपनी रक्षा करती हैं और जैसे ही रावण माँ सीता की ओर बढ़ता है उस तिनके से तीव्र अग्नि प्रज्वलित होती है और रावण पीछे हट जाता है।  

यह प्रसंग रक्षाबंधन का महत्त्व और बहन के प्रति भाई की जिम्मेदारी क्या होती है उससे हमें ज्ञात कराता है।  

तो क्या केवल हमारी संस्कृति में बहन की ही रक्षा करने को कहा गया है नहीं, हर रूप में स्त्री की रक्षा करने के लिए हमें सिखाया गया है।  

गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित श्री रामचरितमानस में एक प्रसंग है जब प्रभु श्री राम बालि का वध कर देते हैं तो बालि उनसे पूछते हैं कि, उन्हें क्यों मारा तब प्रभू श्री राम कहते हैं 

अनुज वधु भगिनी सुत नारी। सुनु सठ कन्या सम ए चारी।

इन्हहिं कुदृष्टि बिलोकइ जोई। ताहि बधें कछु पाप न होई।।

हे मूर्ख! सुन, छोटे भाई की स्त्री, बहिन, पुत्र की स्त्री और कन्या- ये चारों समान हैं। इनको जो कोई बुरी दृष्टि से देखता है, उसे मारने में कुछ भी पाप नहीं होता।

इसलिए भारतीय संस्कृति में स्त्री हर रूप में पूजनीय है और उसकी रक्षा हर परिस्थिति में होना चाहिए।  

नोट: यदि आपको हमारी खबर अच्छी लगे तो हमारे न्यूज़ पोर्टल पर बेल आइकॉन दबाकर इसे सब्सक्राइब करें। आप खुद भी अपनी न्यूज़ हमारे पोर्टल पर होमपेज पर जाकर Submit news ऑप्शन पर क्लिक करके पोस्ट कर सकते हैं, या हमे ऊनी न्यूज़ contact@trueblitz.com पर ईमेल कर सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.