इग्नो स्कॉलर्स रिसर्च एसोसिएशन ने दिया सी. ए. ए को समर्थन

0
120

इग्नो स्कॉलर्स रिसर्च एसोसिएशन ने दिया सी. ए. ए को समर्थन

सी ए ए के समर्थन में अब इग्नोर स्कॉलर्स रिसर्च एसोसिएशन ने भी समर्थन दे दिया है। इग्नो स्कॉलर्स रिसर्च एसोसिएशन के सुधांशु सुल्तानिया ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिठ्ठी लिखकर पूर्ण समर्थन दे दिया है।

पत्र में लिखा है

” परम श्रध्देय माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी,
प्रधान मंत्री, भारत सरकार,
नव वर्ष की हार्दिक बधाई।।
देश के प्रधानसेवक के रूप में आपके द्वारा भारत माता की जा रही श्रेष्ठ सेवा के लिए पूरा देश आपके आगे नत मस्तक
है। इसी क्रम में आपकी सरकार द्वारा ऐतिहासिक नागरिकता संशोधन अधिनियम, 2019 बनाया गया और आपने 7
दशकों से पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से प्रताड़ित हो कर भारत में आए हिन्द्र, सिक्ख, बौध्द, जैन, पारसी
और ईसाई शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता प्रदान कर के उनके नारकीय जीवन का उध्दार करने का प्रयास किया है
। इसके लिए IGNOU Research Scholars’ Association (IGNOURSA), New Delhi आपको और
आपकी सरकार को सादर नमन करते हुए तहे दिल से शुक्रिया अदा करता है।
किंतु दुर्भाग्य वश कुछ विश्वविद्यालयों में तथातथित छात्रों द्वारा इस नागरिकता कानून के खिलाफ हिंसात्मक विरोध
प्रदर्शन किया गया और विपक्षी राजनीतिक दलों और कुछ मिडिया चैनलों द्वारा इसे आपकी सरकार के खिलाफ देश
व्यापी छात्र आंदोलन बताया जा रहा है। किसी भी प्रकार की हिंसा की हम सख्त निंदा करते हैं।
देश का एक युवा छात्र नेता और Founder President, IGNOU Research Scholars’ Association
(IGNOURSA) होने के नाते हम यह स्पष्टतः दावा कर सकते हैं कि यह कोई छात्र आंदोलन नहीं है बल्कि राजनीतिक
रूप से प्रेरित कुछ मुट्ठी भर गैर- राष्ट्रवादी छात्रों द्वारा देश की एकता और अखंडता को खंडित करने और सांप्रदायिक
सद्भाव भंग करने की गंभीर साजिश है । हम, इग्नू के सभी शोध छात्र-छात्राएं और भारत के सभी विश्वविद्यालयों के
छात्र-छात्राएँ, नागरिकता संशोधन अधिनियम, 2019 का तहे दिल से समर्थन करते हैं और संकट की इस घड़ी में
आपकी सरकार के साथ खड़े हैं।
एक बार पुनः भारत माता के इस महान सपूत और प्रधानसेवक को पूरा देश शत शत नमन करता है। आप इसी तरह
भारत माता की सेवा करते रहें तथा ईश्वर इसके लिए आपको असीम शक्ति और दीर्घायु प्रदान करे।
वंदे मातरम्

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.